लाठी लेकर निकली युवतियों की टोली : बिलासपुर दुर्गा वाहिनी के सदस्यों ने शस्त्र पूजन के बाद किया पथ संचलन- विश्व हिंदू परिषद दुर्गा वाहिनी की स्थापना दिवस पर विविध आयाम

भुवन वर्मा बिलासपुर 4 अक्टूबर 2022

बिलासपुर । देश भक्ति गीतों की गूंज के साथ विश्व हिंदू परिषद दुर्गा वाहिनी की स्थापना दिवस पर बिलासपुर में युवतियों ने पहली बार पथ संचलन कर शौर्य का प्रदर्शन किया। पथ संचलन तिलक नगर स्थित सरस्वती शिशु मंदिर परिसर से शुरू होकर शहर में भ्रमण किया।

लड़कियां सफेद सलवार सूट और भगवा चुनरी पहनकर निकलीं थी। देश भक्ति गीतों की गूंज गली-गली सुनाई दी। इस दौरान हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने लड़कियों का जगह-जगह स्वागत भी किया।


युवतियों को लाठियां चलाने के लिए प्रशिक्षण दिया गया । तिलक नगर स्थित सरस्वती शिशु मंदिर परिसर में विश्व हिंदू परिषद दुर्गा वाहिनी की जिला संयोजिका के नेतृत्व में 40 युवतियों के लिए विशेष प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें उन्हें राष्ट्र भक्ति के के साथ बौद्धिक शिविर की जानकारी भी दी गई। साथ ही शिविर में यह भी बताया गया कि दुर्गा वाहिनी की स्थापना किस उद्देश्य से की गई है। दुर्गा वाहिनी में जुड़ने से उन्हें क्या लाभ होगा।

राष्ट्र प्रेम और बौद्धिक वर्ग का हुआ प्रशिक्षण…

योग प्रशिक्षण और आत्म रक्षा के गुर भी सिखाए गए प्रशिक्षण शिविर में स्कूल-कॉलेज में पढ़ने वाली युवतियों को योग और प्राणायाम कराया गया। इसके साथ ही उन्हें आत्मरक्षा के गुर भी सिखाए गए। इसमें उन्हें डंडा चलाने के तरीके भी बताए गए और इससे उन्हें अपनी रक्षा करने की जानकारी दी गई। प्रशिक्षकों ने उन्हें लाठियां चलाकर प्रशिक्षित किया। इसके बाद युवतियां भी हाथ में लाठी लेकर शौर्य प्रदर्शन करने लगीं।

दुर्गा वाहिनी की सदस्यों को योग भी सिखाए गए…

शौर्य प्रदर्शन कर किया पथ संचलन विश्व हिंदू परिषद दुर्गा वाहिनी की सदस्यों ने नवरात्र के दुर्गा अष्टमी पर्व पर शस्त्र पूजन कर पथ संचलन किया। इस दौरान युवतियां रिवर व्यू रोड, गोड़पारा होते हुए लाल बहादुर शास्त्री स्कूल, गोल बाजार, सदर बाजार, देवकीनंदन चौक होकर वापस सरस्वती शिशु मंदिर पहुंची। हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह उनका स्वागत किया। प्रशिक्षण शिविर में नीलू पाठक ने ‘नारी अबला नहीं सबला’ विषय पर विशेष मार्गदर्शन दीं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.