विषम परिस्थिति में अपने ही काम आते हैं अतः स्वदेशी अपनाओ-राष्ट्र को मजबूत करो

14

भुवन वर्मा, बिलासपुर 05 अप्रैल 2020

भयंकर आपदा Corona में हमारे स्वदेशी उद्योगपति सहयोग हेतु आमजनो के साथ प्रथम पंक्ति में खड़े हैं : वही विदेशी व्यापारी भाग खड़े हुए..

हमारा हिंदुस्तान आज कल कोरोना के चलते विषम परिस्थितियों के दौर से गुजर रहा है ब।कोरोना वायरस भारत ही नहीं अपितु पूरे विश्व को हिला कर रख दिया है ।आज हम सब 21दिनों से अपने घरों में लॉक डॉउन के चलते लॉक हैं ।इस विषम परिस्थिति में कौन अपने और पराए इसकी पहचान बहुत जरूरी है । अपने ही साथ देने वालों होते हैं । हमारे हिंदुस्तान की अपनी खुद की बड़ी नामी कंपनियों के अलावा विदेशी कंपनियों का भी खासकर ऑटोमोबाइल्स फार्मेसी सेक्टर में बड़ी हिस्सेदारी है भारत के व्यापारी हैं , प्रधानमंत्री व राज्यों के मुख्यमंत्री अनेक समाजसेवी संगठन शासकीय अधिकारी कर्मचारीयों के आर्थिक सहयोग से आपदा फंड इक्कठे कर रहे हैं,,,।
जिंइसे जैसा बन पड़ रहा है सब अपनी तरफ से पूरा वायरस के खात्मे के लिए आर्थिक दान व अनाज का सहयोग कर रहे हैं । इस परिस्थिति में विदेशी कंपनियां जो हमारे बाजार में बड़े हिस्सेदारी रखती हैं । उनका सहयोग नहीं के बराबर है उनके लिए हमारा हिन्दुस्तान केवल एक बाजार है ।

हमारा आपसे विनम्र अनुरोध विदेशी उत्पादों का उपयोग काम से कम करें । हमारे अपने हिंदुस्तान के उत्पाद जैसे कंप्यूटर, ऑटोमोबाइल्स मेडिकल प्रोडक्ट व अन्य उत्पाद का ही उपयोग करें । हमारे अपने उद्योगपति इस आपदा में करोड़ों अरबों में दान कर रहे हैं । जिसकी तालिका संलग्न है । अतः स्वदेशी उत्पाद और सामग्रियों का उपयोग अधिक से अधिक करनी चाहिए । कि आपकी खरीदी हुई अंशदान इस विषम परिस्थिति में दिए गए उन कंपनियों के दान में हिस्सेदारी के रूप में आती है,,,
TATA के रतन, 1500 करोड़
WIPRO के प्रेम, 1125 करोड़
SAIL भिलाई इस्पात संयंत्र: 530 करोड़

Corona राहत फंड में सहयोग मिला, ये आदरणीय उद्योगपति और उनकी कम्पनी हमेशा जनसेवा के में आगे रहती है। समस्त सेवकों, दानदाताओं का सादर आभार, धन्यवाद। Tata और Wipro सहित स्वदेशी प्रोडक्ट उपयोग करने वालों का भी आभार।

अनेको भारतीयों की भागीदारी है हम कुछ के ही नाम दे रहें हैं:- Azim Premji- 1100 crore
Ratan tata- 500 caror
Anand mahindra-500 crore
Wipro-. 100crore
Mukesh Ambani – 500 crore
Tata group-1000
TVs motor- 30
Uday kotak- 25
Kotab Mahindra Bank- 35
Asian paints – 35cror
Ram dev baba. – 25 crore
Akshay Kumar-. 25
Hero – 100 crore
Bajaj – 100 crore
Godrej- 50crore
Axis bank- 100core
Vedanta- 100crore

इन विदेशी कम्पनियों की नही है भागीदारी :– suzuki, honda, Hyundai, NESTLE, colgate, cocacola, Amazon

About The Author

14 thoughts on “विषम परिस्थिति में अपने ही काम आते हैं अतः स्वदेशी अपनाओ-राष्ट्र को मजबूत करो

  1. I do not even know the way I stopped up here, but I assumed this put up used to
    be great. I don’t realize who you might be but definitely
    you’re going to a famous blogger in case you aren’t already.
    Cheers!

  2. Hello i am kavin, its my first time to commenting anywhere, when i read this piece of writing i thought i could also make comment due to this good
    piece of writing.

  3. I am the business owner of JustCBD brand (justcbdstore.com) and I’m presently trying to develop my wholesale side of business. I am hoping anybody at targetdomain give me some advice ! I thought that the most suitable way to accomplish this would be to connect to vape shops and cbd retail stores. I was really hoping if anybody at all could suggest a trusted site where I can get Vape Shop B2B Data List I am already taking a look at creativebeartech.com, theeliquidboutique.co.uk and wowitloveithaveit.com. Unsure which one would be the most suitable option and would appreciate any support on this. Or would it be simpler for me to scrape my own leads? Ideas?

  4. The next time I read a blog, I hope that it won’t disappoint me just as much as this one. After all, Yes, it was my choice to read, but I actually believed you would probably have something interesting to say. All I hear is a bunch of moaning about something you can fix if you were not too busy looking for attention.

  5. Having read this I thought it was extremely enlightening. I appreciate you taking the time and effort to put this article together. I once again find myself personally spending way too much time both reading and posting comments. But so what, it was still worth it!

  6. Hi would you mind sharing which blog platform you’re working with?

    I’m looking to start my own blog in the near future but
    I’m having a difficult time selecting between BlogEngine/Wordpress/B2evolution and Drupal.
    The reason I ask is because your design and style seems different then most blogs and I’m looking for something completely unique.
    P.S Sorry for being off-topic but I had to ask!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *