पशुपालन विभाग में कार्य करने वाले पीड़ित कार्यकर्ता : राज्यसभा सांसद श्रीमती छाया वर्मा से किये मुलाकात

भुवन वर्मा बिलासपुर 13 जनवरी 2022

रायपुर । आज छग पशुपालन विभाग में कार्य करने वाले कृत्रिम गर्भाधान कार्यकर्ता गौसेवक संघ ने सांसद से मुलाकात किया गया और अपनी समस्या को बताया गया जिनमे पशुपालन विभाग से सेवानिवृत्त हुए सहायक पशुचिकत्साअधिकारी ने बताया कि आज सरकार का महत्वाकांक्षी योजना नरवा गरुवा घूरवा अऊ बाड़ी जिनमे आज गोठान में भी जाकर इनके द्वारा सेवा दिया जा रहा है आज दूरवर्ती गांवो में जब विभाग के कर्मचारी नही पहुंच पाते वहा पर ये कृत्रिम गर्भाधान कार्यकर्ता गौसेवक और मैत्री अपनी सेवा दे रहे है । जिला रायपुर से जिला अध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह राजपूत जी ने बताया कि आज हम लोग विभाग का प्रमुख कार्य कर रहे है आज हमे 20 वर्ष से ऊपर हो गया है कार्य करते हुए आज कई हमारे साथी निराश होकर इस कार्य को छोड़कर दूसरे के पास रोजी मजदूरी करना पड़ रहा है जिला मुंगेली से पुस्पकांत शर्मा जी ने बताया कि आज हम पशुपालन विभाग का प्रमुख कार्य जिनमे नस्ल सुधार बधियाकरन टीकाकरण प्राथमिक उपचार पशुओं को टैगिंग करना इनाफ एंट्री पशु सर्वे साथ ही आज पशुपालको को रात 12 बजे में भी इमरजेंसी सेवा दे रहे है ।

जिला बालोद से विनोद देवांगन ने बताया कि आज जो कार्य के आधारित में जो पैसा मिलता है उसे सरकार देने में कई साल लगा देते है ऐसे में हम परिवार को कैसे पाल सके ये सबसे चिंता की बात है हम जब पूरे कार्य करके दे रहे है तो हमारे लिए सरकार क्यों न्याय नही कर रहे है धरसीवां के ब्लाक अध्यक्ष रूपेंद्र साहू और ताकेस्वर देवांगन ने बताया की आज हम लोगो को शासन के द्वारा बीमा भी नही कराया है कई बार हमारे साथी को बहुत ज्यादा चोट लग जाता है यहां तक कार्य के दौरान मृत भी हो गए है पर हमे एक रुपए भी नही मिलता जो दुख की बात है । साथ ही जिला बालोद के वरिष्ट कार्यकर्ता झग्गर साहू ने सांसद महोदया को बताया की आज गौमाता की सेवा करने वालो का बहुत ही बुरा हाल हो रहा है।आज हम लोग रायपुर के बुढ़ा तालाब में 32 दिन तक धरना प्रदर्शन किए पर न विभाग से न ही सरकार से हमारे लिए आश्वासन मिला जो दुख की बात है । आज पूरे भारत में सबसे अच्छा योजना नरवा गरूवा घुरवा आऊ बाड़ी का हमारे मुख्यमंत्री ने योजना लाया पर इनमे हम जैसे जो जमीन स्तर पर कार्य करने वाले और इस योजना में सहयोग करने वालो के लिए शासन प्रशासन को कोई चिंता नही है । हमारा कार्य आधारित मानदेय को बंद करके हमे एक निश्चित मासिक मानदेय एक कलेक्टर रेट में और विभाग में प्राथमिकता दिया जाय । हमारी समस्या को आज राज्यसभा सांसद ने बहुत ही गंभीरता पूर्वक सुना और बोली की आप लोगो की जो समस्या है उसे विभागीय मंत्री और मुख्यमंत्री जरूर संज्ञान में ले क्योंकि गौमाता की सेवा करने वालो का जो समस्या है वो उचित है उसे छग सरकार तत्काल उनके मांगो पर विचार करे साथ ही सांसद महोदया बोली की में आप लोगो की जो जो मांग है में सरकार के पास रखूंगी । अंत में जितने भी आए थे उन सभी ने सांसद महोदय का आभार व्यक्त करते हुए बताए की आज इतने लम्बे समय के बाद हमारी बातों को गंभीरता पूर्वक सुना ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *