महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी किसान न्याय रैली में सीएम योगी और पीएम मोदी पर किया हमला : प्रियंका ने रैली के पहले दर्शन करने पहुची श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर

भुवन वर्मा बिलासपुर 10 अक्टूबर 2021

लखनऊ । कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने किसान न्याय रैली में सीएम योगी और पीएम मोदी पर हमला किया। प्रियंका गांधी ने अपने भाषण की शुरुआत सोनभद्र की घटना से की। उन्होंने कहा कि जब मैंने यहां कार्यभार ग्रहण किया, सोनभद्र में पुलिस प्रशासन के सहयोग से आदिवासी किसानों की जमीन पर कब्जा कर लिया गया। उन्होंने विरोध किया तो 13 आदिवासियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। जब मैं वहां मिलने पहुंची तो गिरफ्तार कर लिया गया। उस मामले में भाजपा के एक पूर्व विधायक, भाजपा के लोग उसमें भी इन्वाल्व थे। अब लखीमपुर में हुई घटना में भी भाजपा के लोग शामिल हैं।रैली से पहले वह श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर पहुंचीं। विश्वनाथ मंदिर में प्रियंका गांधी ने विधि-विधान पूजा-अर्चना की। अन्नपूर्णा मंदिर में भी मां का आशीर्वाद लिया। इसके बाद अन्नपूर्णा मंदिर से प्रियंका का काफिला दुर्गाकुंड पहुंचा। यहां दुर्गा जी का प्रियंका ने दर्शन-पूजन किया। इससे पहले एयरपोर्ट से मंदिर तक रास्ते में पार्टी कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह उनका अभिनंदन किया।

ये देश भाजपा के पदाधिकारियों, उनके मंत्रियों की जागीर नहीं है। ये देश आपका देश है। इस देश को कौन बचाएगा। अगर आप जागरूक नहीं बनेंगे समझदार नहीं बनेंगे। इनकी राजनीति में उलझे रहेंगे तो आप परेशान रहेंगे। आप किसान हो। आपकी मेहनत ने इस देश को बनाया है। जो आपको आपको आंदोलनजीवी कहते हैं, आपको आतंकवादी कहते हैं, उन्हें न्याय देने के लिए मजबूर कीजिये। हम किसी से नहीं डरते हैं। जब तक गृहराज्यमंत्री इस्तीफा नहीं देगा, हम लड़ते रहेंगे।

-प्रियंका गांधी ने कहा कि इस देश में सिर्फ दो तरह के लोग सुरक्षित हैं। एक भाजपा का नेता और दूसरा उसका खरपति मित्र। इस देश में किसी धर्म का व्यक्ति सुरक्षित नहीं है। न किसी जाति का व्यक्ति सुरक्षित है। न महिलाएं सुरक्षित हैं और न ही कोई किसान-दलित सुरक्षित है। इस बात को पहचानिये। पेट्रोल पंपों पर जो बड़ी-बड़ी होर्डिंग लग रही है, उसे पहचानिये। सच्चाई को पहचानिये। आप किस चीज से डर रहे हैं। डरिये नहीं, समय आ गया है। चुनाव की बात नहीं है अब देश की बात है।

-प्रियंका गांधी ने कहा कि अपने आप को गंगापुत्र कहने वाले हमारे प्रधानमंत्री ने गंगापुत्रों का अपमान किया है। किसान बुरी तरह परेशान हैं। इन्होंने देखा है कि आवारा पशु किस तरह उन्हें तबाह कर रहे हैं। क्या प्रधानमंत्री ने देखा है कि आवारा पशुओं को। मैंने देखा है।

-प्रियंका गांधी ने रैली को संबोधित करते हुए सीएम योगी और पीएम मोदी पर जबरदस्त हमला किया। प्रियंका ने कहा कि लखीमपुर खीरी में जो हुआ, पिछले हफ्ते से हम देख रहे हैं कि देश के गृहराज्यमंत्री के बेटे ने छह किसानों को निर्ममता से कुचल दिया। छह के छह परिवार कहते हैं कि हमें पैसे नहीं चाहिए, मुआवजा नहीं चाहिए, हमें न्याय चाहिए। न्याय दिलवाने वाला सरकार में नहीं दिख रहा है। पूरी सरकार मंत्री और उनके बेटे को बचाने में लगी रही। पूरा प्रशासन विपक्ष को रोकने में लगा रहा। पीड़ित परिवारों को भी नजरबंद किया गया। अपराधियों को नहीं पकड़ा गया। अपराधियों को निमंत्रण भेजा कि आइये हमसे बात कीजिये। किसी देश में ऐसा हुआ है कि किसी ने छह लोगों को कुचल दिया हो और उसे निमंत्रण दिया गया कि आइये हमसे बात कीजिये।


भूपेश बघेल मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ ने कहा कि यूपी ने सभी को जवाब दिया है। आज नौजवानों-महिलाओं के कई सवाल हैं। क्या यूपी से देश की जनता को जवाब मिलेगा? जिसके शासन में सूरज नहीं डूबता था उन अंग्रेजों से भी नहीं डरे। इनसे क्या डरेंगे। पहले लड़ा था गोरो से अब लड़ेंगे चोरों से।

-बघेल ने कहा कि यही लोग हैं जो अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई को कमजोर कर रहे थे। उस समय भी गोली से भूना गया था। आज भी गाड़ी से रौंदकर मारा जा रहा है। हम लोग गांधी को मानने वाले लोग हैं। अहिंसा के साथ लड़ेंगे। सोनभद्र में प्रियंका ने जिस तरह लड़ाई लड़ी। हाथरस में बिटिया की लड़ाई प्रियंका गांधी ने लड़ी। अनुसूचित जाति की लड़ाई हो, दलितों की लड़ाई हो, किसानों को लड़ाई हो…सभी लड़ाई प्रियंका गांधी ने लड़ी है। वह लगातार लड़ाई लड़ रही हैं।

-छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि ये योगी बड़ा डरपोक निकला। वह हमारे दलितों से डरते हैं और पुलिस को आगे करते हैं। अरे इतने डरपोक है कि एक महिला प्रियंका गांधी से डर गया और सीतापुर की जेल में डाल दिया। योगी इतना बड़ा डरपोक होगा, मैंने सोचा भी नहीं था। जब मैं लखनऊ पहुंचा तो एयरपोर्ट से बाहर नहीं जाने दिया गया। इतना डरपोक इंसान हमने नहीं देखा। योगी कई बार छत्तीसगढ़ आए कभी नहीं रोका था। हम तो अब भी कहते हैं आइये छत्तीसगढ़।

Leave a Reply

Your email address will not be published.