कका के राजीव मितान और छग ओलंपिक को पलीता लगा रहे कोरबा जिले के कांग्रेसी : जिला व पुलिस प्रशासन सहित महापौर की मौजूदगी में हुआ जम कर विरोध प्रदर्शन

भुवन वर्मा बिलासपुर 07 अक्टूबर 2022

कोरबा ।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा राजीव युवा मितान क्लब के गठन को जहां प्राथमिकता दी गई है वहीं परंपरागत खेलों को प्रोत्साहित करने के लिए छत्तीसगढ़ ओलंपिक का भी आयोजन कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री के इन दोनों महत्वाकांक्षी योजनाओं को कोरबा जिले के जिला ग्रामीण व शहर के कांग्रेसी पलीता लगाने पर तुले हुए हैं।दरअसल युवा मितान क्लब की नियम विरूद्ध की गई बैठक को नियमानुसार शुन्य घोषित करने की मांग उजिले के कांग्रेसियों ने उठाई है जिला कांग्रेस के जिम्मेवार पदाधिकारी ने बताया कि राजीव युवा मितान क्लब के गठन के संबंध में खेल एवं युवा कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ शासन द्वारा जारी मार्गदर्शिका में (1) शासी निकाय ¼GOVERNING BODY½ , (2) कार्यकारिणी/ केन्द्रीय समिति ¼EXECUTIVE BODY½ एवं (3) जिला स्तरीय समिति के गठन के लिए जारी प्रारूप में समन्वयक पद का कही भी उल्लेख नहीं है। उसके बावजूद राजीव युवा मितान क्लब के संचालन के संबंध में, प्रशिक्षण एवं अन्य गतिविधियों के संबंध में आहूत की गई बैठक में तथाकथित समन्वयक एवं अन्य अनाधिकृत सदस्यों को बुलाये जाने पर घोर आपत्ति की है। साथ ही यह भी कहा है कि भविष्य में अगर इस प्रकार की पुनरावृत्ति होती है और नियम विरूद्ध बैठक बुलाई जाती है तो इसका पुरजोर विरोध करेंगे।

इधर दूसरी ओर शुक्रवार को दर्री जमनीपाली क्षेत्र में राजीव युवा मितान क्लब के द्वारा आयोजित कार्यक्रम एवं छत्तीसगढ़ ओलंपिक के आयोजन में जमकर बवाल मचा। यहां मितान क्लब के जिला को-आर्डिनेटर सहित जिला व पुलिस प्रशासन सहित निगम अमले अन्य पदाधिकारी और प्रशासनिक अधिकारी कार्यक्रम में उपस्थित थे। मंचीय कार्यक्रम के दौरान यहां एकाएक यूथ इंटक के जिलाध्यक्ष व जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री पहुंचे और उन्होंने इस आयोजन में अनाधिकृत लोगों को बुलाए जाने का जिक्र करते हुए आयोजन पर भी सवाल उठाए। थोड़ी देर में महापौर राज किशोर प्रसाद भी पहुंचे और उन्होंने भी पूरी व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए क्लब और आयोजन को आड़े हाथों लिया। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान यहां खासा बवाल मचा रहा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशा अनुरूप राजीव युवा मितान क्लब का गठन एवं छत्तीसगढ़िया खेलों के ओलंपिक आयोजन में जिस तरह से कांग्रेसियों के द्वारा ही पहुंचकर बवाल मचाया गया और सवाल उठाए गए, उसे लेकर कई तरह की चर्चाएं क्षेत्र में व्याप्त है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.