अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस आज : विविध आयोजन रजनीश, रविंद्र सिंह हुए शामिल

भुवन वर्मा बिलासपुर 09 सितम्बर 2022

बिलासपुर । अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण बिलासपुर द्वारा देवकीनंदन कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बिलासपुर प्रांगण में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में बेलतरा विधायक रजनीश सिंह, योग आयोग के सदस्य रविन्द्र सिंह ठाकुर , जिला शिक्षा अधिकारी डी. के कौशिक सर, जिला परियोजना अधिकारी साक्षरता जितेंद्र पाटले, उन्नत शिक्षा संस्थान बिलासपुर की प्राचार्या श्रीमती रमा कांति साहू, वि. ख. शिक्षा अधिकारी मस्तूरी श्री अश्विनी भारद्वाज, वि ख शिक्षा अधिकारी तखतपुर अंचल जी सहायक वि. खं. शि. अधि. बिल्हा श्रीमती सुनीता ध्रुवे सहा. वि. खं. शि. अधि, मस्तूरी एस आर टंडन सहा. बि.खं. शि. अधि, मस्तूरी एक्का सहित गणमान्य नागरिक की उपस्थिति में मां सरस्वती व छत्तीसगढ़ महतारी की तस्वीर में दीप प्रज्वलन एवम माल्यार्पण के साथ संपन्न संपन्न हुआ।

कार्यक्रम की शुरुआत में साक्षरता रैली रूप विद्यालय की छात्राओं साक्षरता मिशन से जुड़े सभी अधिकारी कर्मचारियों संस्था के स्टाफ के द्वारा देवकीनंदन स्कूल से नेहरू चौक तक निकाली गई। छात्राओं द्वारा छत्तीसगढ़ी साक्षरता गीत पर मनमोहक नृत्य की प्रस्तुति की गई।

साक्षरता कार्यक्रम में विशेष आकर्षण कन्या बिद्यालय की विकलांग (दृष्टिहीन) छात्राओं के द्वारा सरस्वती वंदना एवं राजगीत की प्रस्तुतिकरण रहा। तत्पश्चात अतिथियों का स्वागत जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण के सदस्यों के द्वारा किया गया। जिला परियोजना अधिकारी जितेन्द्र पाटले के द्वारा स्वागत भाषण एवम प्रतिवेदन वाचन प्रस्तुत किया गया। उन्होंने कार्यक्रम की संक्षिप्त जानकारी दी और स्वयं सेवी शिक्षकों के द्वारा साक्षरता कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका और उनके कार्य की सराहना की। स्वयं सेवी शिक्षक बिना किसी वेतन के कार्य कर रहे हैं। जिला शिक्षा अधिकारी ने राज्य व जिले में संचालित महत्वपूर्ण योजनाओं के विषय पर प्रकाश डाला। योग आयोग के सदस्य श्री रविन्द्र सिंह ठाकुर जी बालिका शिक्षा की दर बढ़ाने प्रयास की आवश्यकता एवं कार्य करने की आवश्यकता पर बल दिया विधायक बेलतरा श्री रजनीश सिंह ने अपने उद्बोधन में महिला सशक्तिकरण, पुरुष महिला साक्षरता दर में अंतर एवं बालिका शिक्षा को महत्वपूर्ण बताया। साक्षरता क्या है। इसे हम कैसे निपटेंगे और किस तरह अपने आस पास के निरक्षरों को पढ़ायेंगे। अपने आसपास के एक निरक्षर को साक्षर बनायेंगे इस विषय पर प्रकाश डाला।जिला साक्षरता मिशन प्राधिकरण द्वारा डिजिटल साक्षरता पर जोर देने का प्रस्ताव लाया।साथ अतिथि के रूप में आए जनप्रतिनिधियों से पूर्व में काम किए प्रेरकों को नए प्रोग्राम में मानदेय सहित लेने उचित फोरम में बात रखने आग्रह किया गाय कार्यक्रम को सफल बनाने वाले सभी बी.ई.ओ, ए.बी.ई.ओ, विकासखंड साक्षरता समन्वयक, मास्टर ट्रेनर, कम्प्यूटर कार्य करने वाले, सहायको स्वयं सेवी शिक्षकों को अतिथियों के द्वारा प्रशस्ति पत्र एवं स्मृतिचिन्ह दे कर सम्मानित किया गाय साथ ही सभी विकासखण्ड से आए नव साक्षरों का फूल माला पहनाकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के अंत में श्री रमेश गोपाल सर द्वारा आभार व्यक्त किया गया। एवं आने वाली नई साक्षरता योजना नवभारत साक्षरता अभियान की संक्षिप्त जानकारी दी गई इस प्रकार अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर संगोष्ठी सह सम्मान समारोह सम्पन्न हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.