एयर इंडिया बंद हो सकती है छह महीने में, 60 हजार करोड़ की है देनदारी, पायलट हड़ताल की राह पर

16

भुवन वर्मा, बिलासपुर 30 दिसम्बर 2019

सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया का अगर अगले छह महीने में खरीददार नहीं मिला तो इस पर गंभीर खतरे मंडरा सकते हैं। एयर इंडिया 60 हजार करोड़ के कर्ज में डूबी हुई है। अफसरों का कहना है, अगर छह महीने में सौदा नहीं हुआ तो अगले साल जून तक एयर इंडिया बंद हो सकती है।विमानन कंपनी के भविष्य को लेकर अनिश्चितता के बीच अधिकारी ने कहा कि 12 छोटे (नैरो बॉडी) विमानों का परिचालन फिर से शुरू करने के लिए भी धनराशि की जरूरत है। विमानन कंपनी पर इस समय 60 हजार करोड़ रुपये का कर्ज है और सरकार अभी तक इसको बेचने की प्रक्रिया पर काम कर रही है।अधिकारी ने आगाह करते हुए कहा कि अगर अगले साल जून तक एयर इंडिया के लिए कोई खरीदार नहीं मिला तो उसका हाल भी जेट एयरवेज जैसा हो सकता है। उन्होंने कहा कि निजीकरण की योजना के बीच सरकार के कर्ज में डूबी एयर इंडिया में पैसा लगाने से इनकार करने के साथ अब कंपनी फिलहाल किसी तरह से परिचालन जारी रखे हुए है, जो लंबे समय तक संभव नहीं है।


सरकार के मुताबिक, वित्त वर्ष 2011-12 से इस साल दिसंबर तक सरकार एयर इंडिया में 30,520.21 करोड़ रुपये लगा चुकी है। 2012 में यूपीए सरकार की कंपनी के लिए टर्नअराउंड योजना के तहत उसे 30 हजार करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता भी मिली थी।एयर इंडिया को सबसे पहले जेआरडी टाटा ने 1932 में टाटा एयरलाइंस के नाम से लॉन्च किया था। 1946 में इसका नाम बदल कर के एयर इंडिया कर दिया गया और 1953 में सरकार ने इसको टाटा से खरीद लिया था। तब से लेकर के सन 2000 तक यह सरकारी एयरलाइन मुनाफे में चलती रही। 2001 में सबसे पहले कंपनी को 57 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। तब विमानन मंत्रालय ने तत्कालीन प्रबंध निदेशक माइकल मास्केयरनहास को दोषी मानते हुए पद से हटा दिया था।2007 में तब केंद्र सरकार ने एयर इंडिया में इंडियन एयरलाइंस का विलय किया था। दोनों कंपनियों का विलय के वक्त संयुक्त घाटा 770 करोड़ रुपये था, जो विलय के बाद बढ़कर के 7200 करोड़ रुपये हो गया। सरकार ने एसबीआई को रिकवरी के लिए अधिकृत किया था। एयर इंडिया ने घाटे की भरपाई के लिए अपने तीन एयरबस 300 और एक बोइंग 747-300 को 2009 में बेच दिया था। इसके बाद मार्च 2011 में कंपनी का कर्ज बढ़कर के 42600 करोड़ रुपये और परिचालन घाटा 22000 करोड़ रुपये का हुआ था।करीब 60 हजार करोड़ के कर्ज में दबी एयर इंडिया को वित्त वर्ष 2018-19 में 8,400 करोड़ रुपये का जबरदस्त घाटा हुआ है। एयर इंडिया को ज्यादा ऑपरेटिंग कॉस्ट और विदेशी मुद्रा में घाटे के चलते भारी नुकसान का सामना करना पड़ा है। इन हालातों में एयर इंडिया तेल कंपनियों को ईंधन का बकाया नहीं दे पा रही है।  हाल ही में तेल कंपनियों ने ईंधन सप्लाई रोकने की भी धमकी दी थी। लेकिन फिर सरकार के हस्तक्षेप से ईंधन की सप्लाई को दोबारा शुरू कर दिया गया था। केंद्र सरकार,  एयर इंडिया में अपनी 100 फीसदी हिस्सेदारी को बेचने जा रही है।तीन सालों के दौरान एयर इंडिया का घाटा सबसे शीर्ष पर रहा। कंपनी की नेटवर्थ माइनस में 24,893 करोड़ रुपये रही, वहीं नुकसान 53,914 करोड़ रुपये का रहा। भारी उद्योग मंत्री अरविंद गणपत सावंत ने कहा कि पीएसयू विभाग ने रिवाइवल और रिस्ट्रक्चरिंग पर जोर दिया है। सरकार अपनी तरफ से ऐसी कंपनियों में फिर से पैसा कमाने के नए तरीकों पर काम कर रही है।

About The Author

16 thoughts on “एयर इंडिया बंद हो सकती है छह महीने में, 60 हजार करोड़ की है देनदारी, पायलट हड़ताल की राह पर

  1. I enjoy, cause I discovered just what I used to be looking for.
    You’ve ended my four day long hunt! God Bless you
    man. Have a great day. Bye

  2. My coder is trying to convince me to move to .net
    from PHP. I have always disliked the idea because of the expenses.
    But he’s tryiong none the less. I’ve been using WordPress on various websites for about a year and am concerned about switching to another platform.
    I have heard very good things about blogengine.net. Is there a way I can transfer all my wordpress posts into it?
    Any kind of help would be really appreciated!

  3. I am the owner of JustCBD brand (justcbdstore.com) and am trying to develop my wholesale side of business. I am hoping anybody at targetdomain can help me 🙂 I thought that the most ideal way to do this would be to talk to vape companies and cbd retail stores. I was really hoping if anyone could suggest a trustworthy web-site where I can purchase Global Vape Shop Database I am presently reviewing creativebeartech.com, theeliquidboutique.co.uk and wowitloveithaveit.com. Not exactly sure which one would be the best choice and would appreciate any assistance on this. Or would it be simpler for me to scrape my own leads? Ideas?

  4. After I initially commented I seem to have clicked the -Notify me when new comments are added- checkbox and now each time a comment is added I recieve 4 emails with the exact same comment. There has to be a means you can remove me from that service? Appreciate it!

  5. Howdy! I could have sworn I’ve been to this website before but after browsing through a few of the articles I realized it’s new to me. Anyhow, I’m definitely happy I stumbled upon it and I’ll be book-marking it and checking back frequently!

  6. It’s a pity you don’t have a donate button! I’d definitely donate to this superb blog!
    I suppose for now i’ll settle for bookmarking and adding your RSS feed to my Google account.
    I look forward to new updates and will talk about this
    website with my Facebook group. Chat soon! adreamoftrains best website hosting

  7. Aw, this was a really nice post. Spending some time and actual effort to make a top notch article… but what can I say… I hesitate a lot and don’t seem to get nearly anything done.

  8. Hello there! This post couldn’t be written any better! Reading through this article reminds me of my previous roommate! He always kept talking about this. I will forward this article to him. Pretty sure he’s going to have a good read. Many thanks for sharing!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *