भुवन वर्मा, बिलासपुर 26 नवंबर 2019

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में प्रचलित ऐतिहासिक लोक गाथा लोरिक चंद्रा का प्रदर्शन पूरे छत्तीसगढ़ के साथ बिलासपुर में भी 29 नवंबर को होने जा रहा है।

बिलासपुर प्रेस क्लब में फिल्म के निर्माता निर्देशक प्रेम चंद्राकर ने दावा किया कि यह छत्तीसगढ़ की पहली पीरियड फिल्म है। फिल्म में ममता चंद्राकर ने लोक धुन में गीत गाये हैं। मुख्य कलाकारों में संजय बत्रा, गुलशन साहू, कुंती मढ़रिया के साथ ही जागेश्वरी मेश्राम, योगिता मढ़रिया, आकाश सोनी व डॉ अजय सहाय शामिल हैं। इसके साथ ही जीवन साहू जितेंद्र साहू भी विशेष भूमिका में होंगे।

फिल्म से जुड़े कलाकारों ने कहा कि छत्तीसगढ़ी फिल्मों में प्रेम चंद्राकर स्थापित नाम है जिन्होंने मया देदे मया लेले, परदेसी के मया, माया देदे मयारू जैसी सुपरहिट फिल्मों का निर्देशन किया है। लोरिक चंदा छत्तीसगढ़ की प्रसिद्ध प्रेमगाथा है जो  लैला मजनू, हीरा रांझा की प्रेम कथा की तरह छत्तीसगढ़ में लोकप्रिय है। फिल्म की कहानी प्रेम साइमन ने लिखी है। पटकथा और संवाद तथा गीत प्रेम चंद्राकर और प्रसिद्ध गीतकार लाल यादव ने लिखे हैं।

इस फिल्म में पहली बार तीन सगी बहनें एक साथ पर्दे पर दिखेंगी। फिल्म की नायिका कुंती मढ़रिया के साथ ही जागेश्वरी मढ़रिया और योगिता मढ़रिया ने अभिनय किया है। योगिता ने गीत भी गाए हैं। गायन में पूर्वी चंद्राकर के साथ ही प्रेम चंद्राकर और स्वर दिया है। फिल्म के गीत सुंदरानी यु ट्यूब चैनल पर उपलब्ध हैं। निर्माता चंद्राकर ने कहा कि ये गीत बहुत लोकप्रिय हो रहे हैं। फिल्म में कुल  सात गीत हैं। फिल्म के वितरक सुनील बजाज हैं।

पत्रकार वार्ता में निर्माता-निर्देशक प्रेम चंद्राकर के अलावा सुंदरानी वीडियो वर्ल्ड के निर्माता मोहन सुंदरानी, फिल्म निर्माता अलग राय, नायिका कुंती मढ़रिया, गायिका पद्मश्री ममता चंद्राकर व योगिता मढ़रिया उपस्थित थीं। यह फिल्म 29 नवंबर को छत्तीसगढ़ के सभी सिनेमाघरों में प्रदर्शित हो रही है।  बिलासपुर में यह फिल्म सत्यम टॉकीज में दिखाई जायेगी।

साभार Bilaspurlive.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.