अब महापौर एजाज ढेबर की होगी गिरफ्तारी? चुनावी समर में EOW और ACB की ताबड़तोड़ कार्रवाई लगातार जारी

0

रायपुर :- चुनावी समर के बीच छत्तीसगढ़ में लगाताार EOW और ACB की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है। बीते दिनों से EOW और ACB की टीम शराब और कोयला घोटले के मामले में कई अधिकारियों और नेताओं के ठीकानों पर दबिश दी है। इसी कड़ी में खबर आ रही है कि शुक्रवार को EOW और ACB के अधिकारियों ने रायपुर के महापौर एजाज ढेबर के ठीकानों पर दबिश दी। बताया जा रहा है कि ईओडब्‍ल्‍यू ने रायपुर महापौर एजाज ढेबर के साथ अख्तर ढेबर और जुनैद ढेबर के घर छापा मारा है। EOW और ACB की ताबड़तोड़ कार्रवाई के बाद ये कहा जा रहा है कि जल्द ही मामले में कई और लोगों की गिरफ्तारी हो सकती है।

मिली जानकारी के अनुसार EOW की टीम ने महापौर एजाज ढेबर के भाई अख्तर ढेबर, हनिफ और अनवर ढेबर के घर और संस्थानों में भी रेड मारी है। साथ ही अनवर के बेटों ने नाम से जेल रोड स्थित वेनिंगटन कोर्ट में भी दबिश दी। EOW की जांच की आंच अब ढेबर बंधुओं के परिजन तक भी पहुंच गई। EOW सूत्रों के अनुसार अब ढेबर परिवार के रायपुर जेल रोड होटल समेत वीआईपी चौक स्थित फार्म हाउस, जमीनें, नेताजी सुभाष स्टेडियम के पास वीसी शुक्ल चौक स्थित बिल्डिंग, मुंबई और दिल्ली स्थित संपत्तियों की जांच भी कर रही है।

दूसरी ओर शुक्रवार को एसीबी और ईओडब्ल्यू की गिरफ्त में आए अरुणपति त्रिपाठी के साथ कारोबारी अनवर ढेबर और अरविंद सिंह को कोर्ट पेश किया गया। बताया जा रहा है कि अनवर ढेबर और अरविंद सिंह को तीसरी बार रिमांड पर लेने की पूरी तैयारी की गई है, क्योंकि बिहार से अरुणपति त्रिपाठी की गिरफ्तारी के बाद उसे भी रिमांड पर लिया जाएगा। तीनों को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करने के संकेत अधिकारियों ने दिए है। गुरुवार को आबकारी विभाग के पूर्व सचिव अरुणपति (एपी) त्रिपाठी को गिरफ्तार किया गया। त्रिपाठी, बिहार के गोपालगंज के भोरे में अपने एक रिश्तेदार के यहां छिपे थे।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *