मुख्यमंत्री को लोकसभा चुनाव पहले लगा बड़ा झटका….राष्ट्रीय महासचिव ने दिया पार्टी से इस्तीफा

1

बिहार :- बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लोकसभा चुनाव पहले बड़ा झटका लगा है। जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव मो. अली अशरफ फातमी ने नीतीश कुमार का साथ छोड़ने की घोषणा कर दी है। उन्होंने मंगलवार (19 मार्च) को पार्टी से इस्तीफा दे दिया है।

जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव अली अशरफ फातमी केंद्रीय मंत्री भी रह चुके हैं. उन्होंने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दिया है. ऐसी खबर है कि अली अशरफ फातमी कल (20 मार्च) आरजेडी जॉइन कर सकते हैं. पहले भी आरजेडी के टिकट से दरभंगा सीट से सांसद रहे हैं. मिथिलांचल की दरभंगा या मधुबनी लोकसभा सीट चाह रहे हैं.

About The Author

रायगढ़ में पुरानी रंजिश में डिप्टी रेंजर संजय तिवारी (53) को बोलेरो सवार ने कुचलकर मार डाला। बाइक पर जा रहे संजय को देखकर आरोपी ने बोलेरो को मोड़कर पीछा किया। फिर कृषि उपज मंडी के पास बाइक को टक्कर मार दी, जिससे संजय रोड पर गिर गया। साइड ग्लास से संजय को देखा तो उसे ज्यादा चोंटे नहीं आई थी, तो गाड़ी बैक कर फिर से ठोकर मारी। इससे संजय तिवारी के सिर, माथे में गंभीर चोटें आई। गुरुवार दोपहर 3 बजे की इस घटना के बाद राहगीरों ने उन्हें मजयगढ़ पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। आरोपी ने पुलिस को गुमराह करने के लिए हत्या को हादसा दिखाने की कोशिश की, लेकिन साजिश नाकाम रही। आरोपी को गिरफ्तार कर फौरन सिविल अस्पताल धरलिया गया है।

1 thought on “मुख्यमंत्री को लोकसभा चुनाव पहले लगा बड़ा झटका….राष्ट्रीय महासचिव ने दिया पार्टी से इस्तीफा

  1. Thank you, I have just been searching for information approximately this topic for a while and yours is the best I have found out so far. However, what in regards to the bottom line? Are you certain concerning the supply?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

रायगढ़ में पुरानी रंजिश में डिप्टी रेंजर संजय तिवारी (53) को बोलेरो सवार ने कुचलकर मार डाला। बाइक पर जा रहे संजय को देखकर आरोपी ने बोलेरो को मोड़कर पीछा किया। फिर कृषि उपज मंडी के पास बाइक को टक्कर मार दी, जिससे संजय रोड पर गिर गया। साइड ग्लास से संजय को देखा तो उसे ज्यादा चोंटे नहीं आई थी, तो गाड़ी बैक कर फिर से ठोकर मारी। इससे संजय तिवारी के सिर, माथे में गंभीर चोटें आई। गुरुवार दोपहर 3 बजे की इस घटना के बाद राहगीरों ने उन्हें मजयगढ़ पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। आरोपी ने पुलिस को गुमराह करने के लिए हत्या को हादसा दिखाने की कोशिश की, लेकिन साजिश नाकाम रही। आरोपी को गिरफ्तार कर फौरन सिविल अस्पताल धरलिया गया है।