भुवन वर्मा, बिलासपुर 02 मई 2020

बिलासपुर । प्रदेश के लिए राहत भरी खबर यह है कि कोटा की कोचिंग क्षेत्र से लौटे छात्र-छात्राओं में कोई भी कोरोना से संक्रमित नहीं है। ज्ञात हो कि 204 मरीजों और 6 मौतों की वजह से कोटा राजस्थान हॉटस्पॉट बना हुआ है । इसलिए छत्तीसगढ़ सरकार कोटा से लाए छात्रों को लेकर बेहद चिंतित थी। छात्रों को अलग-अलग जिला के सेंटरों में क्वॉरेंटाइन किया गया है । इइसे सैंपल उसी दिन ले लिया गया था । जिनकी जांच एम्स ,मेकाहारा और जगदलपुर मेडिकल कॉलेज में की गई। जहाँ से सबकी जांच रिपोर्ट जारी कर दी है । किसी भी छात्र कोरोना पॉजिटिव नहीं पाया गया ।

विदित हो कि सूरजपुर, सरगुजा व कोरिया के बच्चों को दुर्ग में क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा गया है । इसी तरह बिलासपुर, मुंगेली, रायगढ़, जांजगीर-चांपा ,कोरबा पेंड्रा गौरेला कांकेर के छात्रों को रायपुर सेंटर में दुर्ग ,राजनांदगांव, बालोद, बेमेतरा ,कवर्धा के बच्चों को बिलासपुर में बस्तर, दंतेवाड़ा, कोंडागांव ,नारायणपुर, बीजापुर, सुकमा के लिए कांकेर में व्यवस्था दी गई है । जशपुर के बच्चों के लिए रायगढ़ में रायपुर महासमुंद के लिए कवर्धा में तथा धमतरी , गरियाबंद बलौदा बाजार- भाटापारा एवं रायपुर रामानुज के बच्चों को धमतरी में रखा गया है । सभी 14 दिनों के लिए क्वॉरेंटाइन किए गए हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.